मंदिरों में जाने वालों पर राहुल गांधी का बयान शर्मनाक, सार्वजनिक माफ़ी मांगे सोनिया गांधी :: हिन्दू महासभा

नई दिल्ली, २१ अगस्त २०१४

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश कौशिक, राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी ने एक संयुक्त वक्तव्य जारी करके राहुल गांधी के उस बयान की कड़ी निंदा की है, जिसमें उन्होंने हिन्दू धर्मावलम्बियों का अपमान करते हुए कहा है कि मंदिर जाने वाले लोग लडकियां छेड़ते हैं. हिन्दू महासभा नेताओं ने कांग्रेस पार्टी को इतिहास की सबसे गन्दी सोच वाली पार्टी बताते हुए कहा कि हाल ही के लोकसभा चुनाव में विपक्ष की हैसियत तक गंवाने वाली पार्टी मुसलमानों को खुश करने के लिए देश के बंटवारे से लेकर हिन्दू धर्मावलम्बियों का अपमान कर सकती है, क्योंकि उसकी नस्ल ही गन्दी है. राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कौशिक एवं राष्ट्रीय महामंत्री श्री शर्मा ने पूरे देश से कांग्रेस पार्टी के सफाये की अपील करते हुए कहा कि हिन्दू धर्म के अपमान की हर संभव कोशिश एक ही पार्टी करती है और वह है कांग्रेस. वहीं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी ने सोनिया गांधी से राहुल के बयान पर सार्वजनिक माफ़ी मांगने की अपील की है. हिन्दू महासभा नेताओं ने एक सूर में कहा कि यदि सोनिया गांधी अपने नालायक पुत्र के बयान पर माफ़ी नहीं मांगती हैं तो हिन्दुओं के हित के लिए हिन्दू महासभा न सिर्फ देशव्यापी आंदोलन करेगी, बल्कि अदालत का दरवाजा भी खटखटा सकती है. हिन्दू हितों के खिलाफ जो कोई बयान देगा, हिन्दू महासभा उसका कड़ा प्रतिउत्तर देने के लिए सजग है.

वीरेश त्यागी
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

लव ज़िहाद पर कानून बनाकर पूर्ण प्रतिबन्ध लगाए सरकार :: हिन्दू महासभा

नई दिल्ली, 19 अगस्त 2014

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश कौशिक, राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी ने एक संयुक्त वक्तव्य जारी करके प्रशिक्षित मुस्लिम आतंकियों द्वारा भोली-भाली हिन्दु लड़कियों को अपने जाल में फंसाकर उनको मुसलमान बनाने के दुष्कृत्यों पर गहरी नाराजगी व्यक्त की है. भारत की हिन्दू बहुसंख्यक जनता द्वारा भारी बहुमत दिए जाने के बाद भी नरेंद्र मोदी की सरकार द्वारा इस दिशा में कोई कार्य नहीं किये जाने पर हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों ने गहरी निराशा व्यक्त की है. उदाहरण देते हुए हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कौशिक एवं राष्ट्रीय महामंत्री श्री शर्मा ने कहा कि देश भर में व्याप्त मदरसों में मुस्लिम युवकों को लव-ज़िहाद करने के लिए पूरा प्रशिक्षण दिया जाता है कि कैसे वह हिन्दू, सिक्ख, जैन इत्यादि समुदायों की लड़कियों को अपने जाल में फंसकर इस्लाम का प्रसार करें. राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री श्री त्यागी ने आगे कहते हुए कहा कि इतना ही नहीं बल्कि विदेशी श्रोतों द्वारा प्राप्त धन के आधार पर मुसलमानों ने अलग-अलग वर्ग की लड़कियों को लव-ज़िहाद में फंसाने पर बाकायदे इनाम की नकद राशि भी देते हैं. सोशल मीडिया पर इस तरह की जानकारी आम बात है कि सिक्ख की लड़कियों को लव-ज़िहाद में फंसाने पर इनाम की राशि ज्यादा दी जाती है, वहीं राजपूत- ब्राह्मण, जाट इत्यादि की लड़कियों को मुसलमान बनाकर बच्चे पैदा करने के लिए ये मुसलमान तमाम तिकड़में आजमाते हैं. हिन्दू महासभा नेताओं ने हिंदूवादी राष्ट्रवादी सरकार होने के बावजूद इस तरह के हालात से निपटने के लिए संसद से क़ानून बनाने की मांग की है, एवं किसी भी मुसलमान द्वारा लव-ज़िहाद करने पर उसको सीधे फांसी की सजा देने का प्रावधान करने की मांग मुख्य रूप से की है. हिन्दू महासभा नेताओं ने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि लव-ज़िहाद रोकने के लिए मोदी सरकार ने सख्त कानून नहीं बनाया तो हिन्दू महासभा संसद से सड़क तक संघर्ष करेगी और हिन्दू जनता के सामने इस सरकार की पोल खोल देगी, जिससे आने वाले विधानसभा चुनावों में भाजपा को करारा झटका लग सकता है.

वीरेश त्यागी
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री

लाल किले से ‘अखंड हिन्दू राष्ट्र’ का निर्माण करने की घोषणा करें नरेंद्र मोदी :: हिन्दू महासभा

नई दिल्ली, १४ अगस्त २०१४

अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्र प्रकाश कौशिक, राष्ट्रीय महामंत्री मुन्ना कुमार शर्मा एवं राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री वीरेश त्यागी ने एक संयुक्त वक्तव्य जारी करके हिंदुस्तान को अखंड हिन्दू राष्ट्र बनाने की घोषणा करने का आह्वान किया है. गौरतलब है कि हिन्दू महासभा खंडित भारत की स्वतंत्रता मनाने की कभी पक्षधर नहीं रही है, बल्कि आज़ादी के पहले का जो स्वरुप था, उसे पुनः बनाये जाने के लिए आज़ादी के बाद से ही संघर्ष जारी रखे हुए है. हिन्दू महासभा नेताओं ने स्पष्ट कहा कि अंग्रेजों ने जिस प्रकार मुसलमानों को भड़काकर देश के टुकड़े करा दिए, उन टुकड़ों को भारत में फिर से जोड़ने का संकल्प लाल किले से व्यक्त किया जाना चाहिए, तब ही पूर्ण स्वत्नत्रता का संकल्प सार्थक होगा. हिन्दू महासभा के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ताओं में इस बात को लेकर काफी रोष रहा है कि खंडित भारत में अब तक के किसी भी प्रधानमन्त्री ने ‘अखंड भारत’ के निर्माण के लिए कुछ भी कदम नहीं उठाया है. अब समय आ गया है कि इस मुद्दे पर सड़क से संसद तक भारतीय जनमानस को एकजुट किया जाय, जिससे देश की गरिमा, उसका अखंड स्वरुप पुनः हासिल हो सके. हिन्दू महासभा के नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुझाव दिया है कि वीर सावरकर, डॉ. हेडगेवार, गुरु गोलवलकर और श्यामा प्रसाद मुखर्जी के अधूरे सपनों को पूरा करते हुए हिंदुस्तान को अखंड हिन्दू राष्ट्र बनाने की तरफ कदम बढ़ाएं.

वीरेश त्यागी
राष्ट्रीय कार्यालय मंत्री